Breaking News
Home / राजनीती / ब’करी’द के लिये यो’गी स’रकार ने सुनाया एक सख्त फैंसला

ब’करी’द के लिये यो’गी स’रकार ने सुनाया एक सख्त फैंसला

मुस्लिम धर्म का सबसे ख़ास त्योहार ईद बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है ! इस साल की ईद यानी बकरा ईद 1 अगस्त को है मतलव मुस्लिम लोग 1 अगस्त को बड़े ही धूमधाम से बकरे की बलि देकर ईद का उत्सब मनाएंगे !लेकिन इसी कारण राजनैतिक विचार भी अपने चरम सीमा पर पहुंचते हुए नज़र आ रहे है दरअसल हाल ही में शफीक उर रहमान, जो की एक समाज वादी समुदाय के एक नेता है, उनका कहना है कि वर्तमान समय में भले ही कोरोना संक्रमण के कारण देश भर में बहार निकलने की इजाजत नहीं है लेकिन बकरीद के चलते जानवरों के बाजार खोल दिए जाने चाहिए! इसके साथ साथ ईदगाह और मस्जिद भी नमाज पढ़ने के लिए वहां पर नमाज पढ़ने की आजादी मिलनी चाहिए!

शफीक उर रहमान का ये बयान सोशल मीडिया पर काफी चर्चा का विषय बना हुआ है जिसके जबाब में आज भारतीय जनता पार्टी के विधायक संगीत सोम ने अपना जवाब दिया है!संगीत सोम ने कहा कि बीजेपी की सरकार कायदे कानून से चलती है ऐसे में जब प्रदेश में कोविड-19 से तमाम लोग शिकार हो रहे हैं तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना बेहद जरूरी है इसलिए इस कोविड-19 को गंभीरता से लेते हुए ऐसे बयान देने से बचना चाहिए! संगीत सोम ने यह तक कहा कि प्रदेश में उनकी खाला की सरकार नहीं है जो चाहे वह कर ले! उनका कहना है कि जब प्रदेश में कोई भी धार्मिक स्थल धाम नहीं खुल रहा है और सभी को सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने की बात की जा रही है तो ऐसे में इस तरह के किसी भी बयान या फिर इस तरह की कोई भी इजाजत कैसे दी जा सकती है!

लेकिन अब वही बकरीद को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है! Uttarpradesh.ORG news ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है कि “बकरीद पर सामूहिक नमाज ,खुले स्थानों पर कु-र्बानी और खु-ले में मांस ले जाने पर रोक!”

About admin1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *