free tracking
Breaking News
Home / बॉलीवुड / राहुल जी “ये थी आपकी दादी की सोच”कांग्रेस के ट्वीट पर विवेक अग्निहोत्री ने राहुल को दिया ये जवाब

राहुल जी “ये थी आपकी दादी की सोच”कांग्रेस के ट्वीट पर विवेक अग्निहोत्री ने राहुल को दिया ये जवाब

दोस्तों इन दिनों निदेशक विवेक रंजन द्वारा बनाई गयी फिल्म द कश्मीर फाइल्स के चर्चे चारो ओर हो रहे  है बता दे इस फिल्म को लेकर एक ट्वीट ने तहलका मचा दिया है .जिसके बाद द कश्मीर फाइल्स के निदेशक विवेक रंजन ने उस ट्वीट  का जबाब देते हुए पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का एक पत्र साझा किया और साथ में लिखा  राहुल जी “ये थी आपकी दादी की सोच” यदि आप भी जानना चाहते हो तो खबर को अंत तक जरुर पढ़े .

उन्होंने इंदिरा का पत्र शेयर करते हुए लिखा, “प्रिय राहुल गांधी जी, आपकी दादी की राय अलग थी।” 11 मार्च को रिलीज हुई द कश्मीर फाइल्स फिल्म, 1980 के दशक के अंत में पलायन के दौरान कश्मीरी पंडितों की दुर्दशा को दिखाने का दावा करती है। हालांकि, कांग्रेस की केरल इकाई ने आरोप लगाया कि अब केंद्र शासित प्रदेश में मारे गए मुसलमानों की संख्या कश्मीरी पंडितों की तुलना में अधिक है जो आतंकी हमले का शिकार हुए हैं।

विवेक अग्निहोत्री ने ट्विटर पर इंदिरा गांधी का पत्र साझा किया है जो उन्होंने अमेरिका  में रहने वाली डॉ निर्मला मित्रा को भेजा था। पत्र दिसंबर 1981 में लिखा गया था। पत्र में, इंदिरा गांधी ने लिखा, “मैं आपकी चिंता समझती हूं। मैं भी दुखी हूं कि ना तुम जो कश्मीर में पैदा हुई, न मैं, जिसके पूर्वज कश्मीर से आते हैं, दोनों ही कश्मीर में एक छोटा टुकड़ा जमीन भी नही खरीद सकते। लेकिन फिलहाल, मामला मेरे हाथ में नहीं है। मैं इस मुद्दे को ठीक करने के लिए जो चीजें जरूरी हैं वो अभी कर नहीं सकती, क्योंकि भारतीय प्रेस और विदेशी प्रेस दोनों ही मेरी छवि एक दबंग सत्तावादी के रुप में दिखा रहे हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “लद्दाख में कश्मीरी पंडितों और बौद्धों के साथ बहुत गलत व्यवहार किया जा रहा है और उनके साथ भेदभाव किया जा रहा है।” बता दें कि विवेक अग्निहोत्री द्वारा ये लेटर शेयर किए जाने से पहले कांग्रेस की केरल इकाई ने फिल्म से असहमति जताते हुए  एक ट्वीट किया था। केरल कांग्रेस ने ट्वीट कर कहा कश्मिरी पंडितों के बारे में तथ्य: वह आतंकी ही थे जिन्होंने पंडितों को निशाना बनाया। पिछले 17 सालों (1990-2007) में हुए आतंकि हमलों में 399 पंडित मारे गए है। इसी अवधि में आतंकवादियों की ओर से मारे गए मुसलमानों की संख्या 15,000 है।

About Megha

Leave a Reply

Your email address will not be published.