Home / देश दुनिया / किस्मत अच्छी निकली नही तो न जाने क्या होता

किस्मत अच्छी निकली नही तो न जाने क्या होता

अमेरिका के व्हाइट हाउस और टेक्सास की कई का-नून प्रवतन एजेंसियों को डाक के जरिए ख’तरना’क ज-हरी’ला र’सायन रिसिन भेजने वाले मामले में नया मोड़ आया है, जहां एक कनाडाई महिला के खि-‘लाफ ख-तरा पैदा करने और जै’विक ह’थियारों के इस्तेमाल पर प्र’तिबंधों का उल्लंघन करने के आरोप लगाए गए हैं. अभियोजन ने मंगलवार को बताया है कि टेक्सास के ब्राउंसविले में ग्रैंड ज्यूरी ने सुनवाई के दौरान पास्केल फेरियर के खि’लाफ 16 आ”रोप लगाए गए है.

कनाडा के मांट्रियल इलाके की 53 वर्षीय निवासी फेरियर इन्हीं आरोपों के तहत वाशिंगटन में संघीय अधिकारियों की हिरासत में है. फेरियर के वकील ने हाल में लगाए गए आरोपों पर कोई प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं की है. आगामी दिनों में महिला की ब्राउंसविले में एक न्यायाधीश के समक्ष पेशी की संभावना है. फेरियर को अमेरिका-कनाडा की सीमा पर गिरफ्तार किया गया था. उसने व्हाइट हाउस को रिसिन वाला लिफाफा भेजकर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को नुकसान पहुंचाने की साजिश के आरोपों को कबूल नहीं किया है.

फेरियर पर ये आरोप भी लगा है कि उसने छह हिरासत केंद्रों और टेक्सास में रियो ग्रांड वैली में कानूनी एजेंसियों के दफ्तर में रिसिन के कुछ पैकेट भेजे थे. हालांकि, इन पैकेटों के संपर्क में आकर कोई अस्वस्थ नहीं हुआ था. संघीय जांच एजेंसी एफबीआई के हलफनामे के मुताबिक व्हाइट हाउस को भेजे पत्र में फेरियर ने ट्रंप को बदसूरत तानाशाह जोकर बताया था और उनसे तुरंत पद छोड़ने के लिए कहा था. व्हाइट हाउस तक पहुंचने से पहले ही पैकेट को कब्जे में ले लिया गया था. फिलहाल मामले की कार्यवाही जारी है

About admin1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *