free tracking
Breaking News
Home / राजनीती / योगी 2.O बनते ही शुरू हुआ सफाई अभियान,डकैत का हुआ इनकाउंटर

योगी 2.O बनते ही शुरू हुआ सफाई अभियान,डकैत का हुआ इनकाउंटर

दोस्तो अक्सर हमने फिल्मों में बड़े बड़े नामी गुंडे,डकैत, डॉन को देखा है । जिन पर सरकार द्वारा बड़े बड़े इनाम रखे गए होते है ।कभी ये पुलिस की पकड़ में आ जाते है तो कभी उनकी गिरफ्त से निकल कर भाग जाते है और पुलिस भी हार नहीं मानती और इसी भागदौड़ में पुलिस उनका एनकाउंटर कर देती है ।आज हम आपको ऐसे ही एक मामले के बारे में बताने वाले है जिसमे पुलिस मुठभेड़ में एक नामी डकैत को गोली लग गयी  ।जिस पर 25 हजार का इनाम रखा गया था । क्या है पूरा मामला जानने के लिए खबर को अंत तक पढ़े ।

लखनऊ के गुडंबा इलाके के भाखामऊ गांव में 25 हजार के इनामी डकैत मोनू पंडित से शुक्रवार रात पुलिस और क्राइम ब्रांच टीम की मुठभेड़ हो गई। मुठभेड़ के दौरान पुलिस की जवाबी फायरिंग में पैर में गोली लगने से डकैत मोनू पंडित घायल हो गया।कानून व्यवस्था से खिलवाड़ और भष्टाचार पर जीरो टालरेंस नीति पर काम करने वाली योगी सरकार के अपने दूसरे कार्यकाल के भी स्पष्ट संकेत मिलने लगे हैं। 10 मार्च को मतगणना के बाद प्रचंड बहुमत जीती योगी सरकार 2.0 में पहला एनकाउंटर हो गया है। लखनऊ पुलिस ने इनामी डकैत मोनू पंडित मुठभेड़ के बाद पकड़ लिया है। उसे पैर में गोली लगी है।

राजधानी लखनऊ के गुडंबा इलाके के भाखामऊ गांव में 25 हजार के इनामी डकैत मोनू पंडित से शुक्रवार रात पुलिस और क्राइम ब्रांच टीम की मुठभेड़ हो गई। मुठभेड़ के दौरान पुलिस की जवाबी फायरिंग में पैर में गोली लगने से डकैत मोनू पंडित घायल हो गया। पुलिस ने उसके पास से बाइक और तमंचा बरामद किया है। एक साल पहले जानकीपुरम में अंजनी ज्वैलर्स शाप में हुई डकैती के मामले में वांछित चल रहा था। उसके खिलाफ औरैया, सीतापुर और उन्नाव में भी मुकदमें दर्ज हैं। डीसीपी उत्तरी ने 25 हजार का इनाम घोषित किया था।शुक्रवार रात इंस्पेक्टर गुडंबा सतीश चंद्र साहू और उत्तरी जो की क्राइम ब्रांच वाहन चेकिंग कर रही थी। इस बीच भाखामऊ गांव के पास बिना नंबर की बाइक से जा रहे युवक को पुलिस ने रोकने का प्रयास किया तो उसने रफ्तार बढ़ा दी। पुलिस और क्राइम ब्रांच ने पीछा किया तो उसने फायरिंग शुरू कर दी। बचाव में पुलिस ने भी घेराबंदी कर फायरिंग की। फायरिंग में बायें पैर में गोली लगने से मोनू घायल हो गया और बाइक से गिर गया। मोनू के पास से एक तमंचा और कारतूस बरामद किए गए हैं। बाइक भी लूट की है।

एडीसीपी प्राची सिंह ने बताया कि डकैत मोनू औरैया के अजीतमल के अनंतराम सोनाली का रहने वाला है। वह उन्नाव जनपद के अचलगंज इलाके में भी रहता था। मोनू ने बीते साल अप्रैल माह में चार साथियों के साथ जानकीपुरम सेक्टर जी निवासी अनुराग अवस्थी की कुर्सी रोड स्थित अंजनी ज्वैलर्स के नाम से संचालित दुकान में वारदात की थी। वह तीन साथियों के साथ अंगूठी लेने के बहाने दुकान में घुसा। इसके बाद तमंचा तानकर वारदात की। इस बीच पड़ोस स्थित किराना दुकान का संचालक पीयूष बदमाशों से भिड़ गया था। इस पर मोून ने पीयूष को गोली मार दी थी। इसके बाद बैग में सोने-चांदी के जेवर लेकर भाग निकला था। बदमाशों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया था।फुटेज से हुई थी पहचान : पुलिस को घटनास्थल से कुछ दूरी पर एक सीसी कैमरे में बदमाशों की फुटेज मिल गई थी। बदमाश जब वारदात देने को अंदर घुसे थे तो नकाबपोश थे। कुछ देर पहले घटनास्थल से कुछ दूर पहले एक सीसी कैमरे में बदमाशों की खुली फोटो दिखी थी। इस पर पुलिस उनकी तलाश कर रही थी। इंस्पेक्टर ने बताया कि मोनू के खिलाफ उन्नाव, सीतापुर और औरैया में कई लूट समेत कई अन्य मुकदें हैं।

About Megha

Leave a Reply

Your email address will not be published.