free tracking
Breaking News
Home / राजनीती / हारने के बाद भी विधायक बन जायेंगे स्वामी प्रसाद मौर्य,अखिलेश ने बनाया ये प्लान

हारने के बाद भी विधायक बन जायेंगे स्वामी प्रसाद मौर्य,अखिलेश ने बनाया ये प्लान

दोस्तों जैसा कि सभी को मालूम है उत्तर प्रदेश के चुनाव के परिणाम के बाद बीजेपी एक बार फिर सत्ता में आ रही है .लेकिन चुनाव में   समाजवादी पार्टी को हार का मुंह देखना पड़ा .ऐसे में खबर सामने आ रही है कि अखिलेश यादव एक ऐसी योजना बना रहे  है .जिससे हारने के बाद भी स्वामी प्रसाद मौर्य बन जायेंगे विधायक. आखिर अखिलेश ऐसी  कौन सी योजना बना रहे  है यदि आप भी जानना चाहते हो तो खबर को अंत तक पढ़े .

स्वामी प्रसाद मौर्य के लिए सीट का त्याग करेंगे अखिलेश


सूत्रों के मुताबिक, अखिलेश यादव चुनाव के ठीक पहले पार्टी में आए स्वामी प्रसाद मौर्य के लिए अपनी जीती हुई सीट छोड़ सकते हैं. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव करहल विधानसभा सीट से इस्तीफा दे देंगे. इसकी वजह यह है कि वह इस समय आजमगढ़ से सांसद हैं और वह अपनी सांसदी को बरकरार रखना चाहते हैं. वहीं, उनके इस्तीफे के बाद करहल सीट खाली हो जाएगी और उपचुनाव में स्वामी प्रसाद मौर्य को उतारा जाएगा. माना जा रहा है कि अखिलेश यादव मौर्य समाज के सम्मान में यह फैसला ले सकते हैं. बता दें कि रविवार को अखिलेश यादव और स्वामी प्रसाद मौर्य के बीच बंद कमरे में मुलाकात हुई और इस बात पर चर्चा हुई. फिलहाल पार्टी की ओर से अभी तक इस बारे में कोई ऑफिशियल बयान नहीं आया है.

स्वामी प्रसाद मौर्य ने फाजिलनगर सीट से लड़ा था चुनाव 


बता दें कि स्वामी प्रसाद मौर्य ने चुनाव से ठीक पहले मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था. उन्होंने बीजेपी पर दलितों, पिछड़ों के हितों की अनदेखी का आरोप लगाया था. इसके बाद मौर्य ने अखिलेश से मुलाकात के बाद सपा जॉइन कर ली थी. सपा ने उन्हें कुशीनगर जिले के फाजिलनगर से टिकट दिया था. मौर्य ने सपा में जाने के बाद कई सीटों पर जीत दिलाने का दावा किया था, लेकिन वे खुद की सीट भी नहीं बचा पाए. बीजेपी के सुरेंद्र कुशवाहा ने स्वामी प्रसाद मौर्य को करारी शिकस्त देते हुए फाजिलनगर सीट पर जीत हासिल की.

क्या रहा करहल का हाल? 

इस विधानसभा चुनाव में मैनपुरी की करहल सीट हॉट सीटों में से एक थी. यह प्रदेश की इकलौती ऐसी सीट थी, जहां दो सांसद आमने-सामने थे. यहां सपा प्रमुख अखिलेश यादव और केंद्रीय मंत्री एसपी सिंह बघेल के बीच कड़ी टक्कर मानी जा रही थी. हालांकि, यह सीट सपा के खाते में गई. अखिलेश यादव ने 67,000 से अधिक वोटों से जीत हासिल करते हुए केंद्रीय मंत्री एसपी सिंह बघेल को मात दी. बता दें कि अखिलेश यादव आजमगढ़ से सांसद हैं, जबकि एसपी सिंह बघेल आगरा से सांसद हैं.

 

About Megha

Leave a Reply

Your email address will not be published.