free tracking
Breaking News
Home / ताजा खबरे / इनकम टैक्स बचाने के लिए पानी में डाल दिये करोड़ो रूपये,ऐसे खुली पोल

इनकम टैक्स बचाने के लिए पानी में डाल दिये करोड़ो रूपये,ऐसे खुली पोल

दोस्तों बहुत से ऐसे लोग है जो उलटे सीधे काम कर  के करोड़ो रूपये कमाते है लेकिन इनकम टैक्स कभी नही भरते .ऐसे लोग ज्यादा दिन तक इनकम टैक्स वालो से  बच नही पाते .कभी न कभी तो पकडे जाते है . जैसे लोगो के घर ओपर ओफ्फिसो  इनकम टैक्स के छापे पड़ते है.तो करोड़ो रुपयों के साथ लाखो करोड़ो की कीमत के हीरे ,सोने और चांदी के गहने बरामद होते है .ऐसे समय में उन लोगो के पास कोई जबाब नही होता .ऐसा ही इनकम टैक्स का एक मामला सामने आया है जिसमे छापे के दौरान लाख छुपाने के बाद भी करोड़ो रूपये बरामद हुए .क्या है पूरा मामला जानने के लिए खबर को अंत तक पढ़े .

मध्य प्रदेश के दमोह में शराब कारोबारी शंकर राय और उनके भाइयों के घर आयकर छापे में करोड़ों रुपये की नगदी बरामद हुई थी। इसमें नोटों से भरा एक बैग पानी की टंकी से निकाला गया था।अब इसके दो वीडियो सामने आए हैं। एक वीडियो में अधिकारी पानी की टंकी से नोटों से भरे बैग निकाल रहे हैं। दूसरे वीडियो में आयकर अधिकारियों ने पानी से निकाले नोटों को जमीन पर बिछाकर रखा है और हेयर ड्रायर व कपड़ों को इस्त्री करने में इस्तेमाल होने वाली प्रेस का इस्तेमाल नोट सुखाने में हो रहा है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार आयकर विभाग ने राय परिवार से करीब 3 करोड़ रुपये नगद बरामद किए हैं। राय परिवार को छापे की भनक लग गई थी। इस वजह से आयकर अधिकारियों से बचाने के लिए बैग्स में भरकर नोटों को पानी की टंकी में छोड़ दिया गया था। आयकर अधिकारियों ने उसका पता लगाया। उन थैलों को बाहर निकाला। नोटों को सुखाया और फिर बैंकों से मंगाई गई नोट गिनने की मशीन से उन्हें गिना। पानी की टंकी से करीब एक करोड़ रुपये निकाले जाने का दावा किया जा रहा है। यह राशि 2000 और 500 रुपये के नोटों में है।

8 करोड़ नगद, हीरे-जवाहरात, 16 गाड़ियां मिली


आयकर विभाग की अतिरिक्त आयुक्त मुनमुन शर्मा ने जबलपुर में एक दिन पहले बताया था कि इस कार्रवाई में शराब कारोबारी और उसके भाइयों के यहां से साढ़े 8 करोड़ रुपये नगद, साढे़ 5 करोड़ रुपए के हीरे-जवाहरात मिले हैं। करीब 10 अलग-अलग प्रकार की गन जब्त की गई हैं। विभाग ने 16 गाड़ियों को भी बरामद किया है। आयकर विभाग ने गुरुवार और शुक्रवार को कांग्रेस के राजा राय, शंकर राय और भाजपा के कमल राय सहित पूरे परिवार के यहां छापामार कार्रवाई की। आयकर विभाग की टीम ने राय परिवार के सभी ठिकानों पर जांच की। आयकर विभाग को पता चला कि राय परिवार की अचल संपत्ति दूसरों के या कर्मचारियों के नाम है।

About Megha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *