free tracking
Breaking News
Home / धार्मिक / ये है होली की पूजा का शुभ मुहूर्त,इन चीजों को जरूर करे शामिल,नही तो हो जाएगी मुसीबत

ये है होली की पूजा का शुभ मुहूर्त,इन चीजों को जरूर करे शामिल,नही तो हो जाएगी मुसीबत

दोस्तों साल 2022 में होली का त्यौहार 18 मार्च को धूमधाम से मनाया जाएगा और 17 मार्च होलिका दहन जिसे सब छोटी होली के नाम से भी जानते है वीरवार के दिन मनायी जाएगी . छोटी होली के दिन होलिका दहन कर विशेष पूजा करने का चलन सदियों से चला आ रहा है .इस दिन की गयी पूजा बहुत ही फलदायी होती है .जिसमे सभी कष्टों का अंत होकर सुख की प्राप्ति होती है . होलिका की विशेष पूजा में कौन सी सामग्री को शामिल  करना चाहिए और क्या होगा पूजा का शुभ मुहर्त जानने के लिए लेख को अंत तक पढ़े .

होलिका दहन की आवश्यक पूजा सामग्री

गाय के गोबर से बनी होलिका
बताशे
रोली
साबुत मूंग
गेंहू की बालियां
साबुत हल्‍दी
फूल
कच्चा सूत
जल का लोटा
गुलाल
मीठे पकवान या फल
होलिका दहन शुभ मुहूर्त

होलिका दहन 17 मार्च 2022 को शुभ मुहूर्त रात में 9 बजकर 16 मिनट से लेकर 10 बजकर 16 मिनट तक ही रहेगा. ऐसे में होलिका दहन की पूजा के लिए सिर्फ 1 घंटे 10 मिनट का ही समय ही है.

होलिका दहन की पूजा विधि

होलिका दहन से पहले विधि-विधान के साथ होलिका की पूजा की जाती है. सबसे पहले होलिका पर हल्दी. रोली और गुलाल से टीका लगाकर फूल, कच्चा सूत, बताशे, मीठी चीजें आदि चढ़ाई जाती हैं. इसके बाद होलिका के चारों ओर 7 बार परिक्रमा की जाती है. और फिर जल चढ़ाएं. मान्यता है कि दहन से पहले होलिका की पूजा बहुत शुभ फलदायी होती है. इससे आपके ग्रहदोष भी दूर होते हैं.इसके बाद शाम के समय होलिका दहन के समय परिवार के सभी लोग होलिका के चारों ओर इक्ट्ठा बैठकर उसमें गेहूं की बाली, साबूत मूंग को जलती हुई अग्नि में डालते हैं. इसके बाद पैर छूकर बड़ों का आशीर्वाद लें. गेंहू के भुने दाने देने दें. ऐसा करने से आपसी प्रेम बढ़ता है और रिश्तों में मजबूती आती है.

About Megha

Leave a Reply

Your email address will not be published.