free tracking
Breaking News
Home / देश दुनिया / ची”न में फिर से बरसा महामारी का कहर,लॉकडाउन की सख्ती में सरकार के खिलाफ भूखे-प्यासे खिडकियों पर चीखते दिखे लोग

ची”न में फिर से बरसा महामारी का कहर,लॉकडाउन की सख्ती में सरकार के खिलाफ भूखे-प्यासे खिडकियों पर चीखते दिखे लोग

दोस्तों पिछले कुछ समय दुनिया भर पर बहुत भारी रहा है .कोविड-19 महामारी की वजह से पूरी दुनिया में शोक की लहर छाई हुयी थी . सभी को कितनी मुसीबतों का सामना करना पड़ा . ऐसे में जंहा कुछ देशो में महामारी से थोड़ी राहत मिलने लगी है. वही ऐसे में खबर सामने आई है कि ची”न  में एक बार फिर से महामारी  का कहर बरपा गया है और रोजाना कोविड-19 के नये मामलो की संख्या बढती जा रही . महामारी के बढ़ते मामलो को ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा की  गयी सख्ती के बाद चारो ओर हाहाकार मचा हुआ है . सरकार की तरफ से सख्त लॉकडाउन होने की वजह से वहां लोग खाने को तरस रहे हैं . ऐसे में चीन की ‘शून्य कोविड’ मामलों की चर्चित नीति पर बहुत से सवाल उठाये जा रहे है .

सोशल मीडिया पर शंघाई के कई वीडियो वायरल हो रहे हैं जिसमें साफ देखा जा सकता है कि लोग बिना खाना-पानी और दवा के किस तरह से तड़प रहे हैं। घरों से बाहर निकले पर पूरी तरह से पाबंदी लगा दी गई है। अब लोग अपनी बालकनी और खिड़कियों से ही झांकते नजर आते हैं। गुस्से में वे खिड़कियों से चीखकर सरकार के खिलाफ विरोध जाहिर करते हैं। जब लोगों ने खिड़कियों से चिल्ला-चिल्लाकर विरोध किया तो सरकार ने भी प्रतिक्रिया में कह दिया कि आजादी की अपनी इच्छा को दबाकर रखें।

प्रशासन ने लोगों पर नजर रखने के लिए ड्रोन तैनात कर दिए हैं। इसके अलावा लोगों को संदेश देने के लिए भी ड्रोन का इस्तेमाल किया जा रहा है। सरकार ने यहां तक कह दिया है कि लोग अपनी खिड़कियां न खोलें, इससे भी महामारी फैलने का डर है। इस बीच शहर शंघाई में करीब 11 हजार मरीजों को ठीक होने के बाद छुट्टी दी गई है। शंघाई जनस्वास्थ्य आयोग के वरिष्ठ अधिकारी वू कियानयू ने मीडिया से रविवार को कहा कि मरीजों को गृह पृथक-वास में रखा जाएगा तथा उन पर और नियंत्रण नहीं रखा जाएगा। हांगकांग से प्रकाशित साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने अपनी खबर में कहा कि क्षेत्र के संबंधित अधिकारी मरीजों को घर जाने की अनुमति देंगे और अधिकारियों को उनके स्वास्थ्य (गृह पृथक-वास के दौरान) पर नजर रखनी होगी।

खबर में कहा गया कि करीब 11 हजार मरीजों को छुट्टी दी गई है। लेकिन सत्तारूढ़ चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के लिए रविवार को बेचैनी की स्थिति रही क्योंकि शंघाई में एक दिन में संक्रमण के 24,944 नए मामले सामने आए जो लगातार नौवें दिन महामारी के मामलों का एक नया रिकॉर्ड है। साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट अखबार के मुताबिक, चीन की वाणिज्यिक और आर्थिक राजधानी शंघाई में महामारी की मौजूदा लहर के दौरान अब तक संक्रमण के 1,79,000 मामले आ चुके हैं।

About Megha

Leave a Reply

Your email address will not be published.