free tracking
Breaking News
Home / धार्मिक / गुरुवार के दिन अपने पर्स में रखले ये चीज़, कभी नही होगी धन की कमी

गुरुवार के दिन अपने पर्स में रखले ये चीज़, कभी नही होगी धन की कमी

आज के समय में पैसा इन्सान की सबसे बड़ी जरूरत है ! पैसा कमाने के लिए इन्सान  दिन -रात मेहनत करता है ! लेकिन इसके बाद भी वह इतना ही कमा पाता है जिससे उसकी रोजी रोटी चल सके ! पैसा न होने की वजह से उसे अपनी बाकि की इच्छाये मारनी पड़ती है ! पैसा भी हर किसी को नही मिलता ये भी किस्मत की बात है !जिसको मिलता है उसको जरूरत से ज्यादा मिल जाता है और जिसको नही मिलता उसको थोडा भी नही मिलता ! बहुत से ऐसे लोग होते है जो कम पढ़े -लिखे होते है और अच्छी  जॉब पर  होते है और अच्छा खासा कमाते है ! वही  बहुत से ऐसे लोग होते है जो बहुत सी डिग्रिया होने के बाद भी जॉब की तलाश करते रहते है !

अपने जीवन में पैसों की कमी को दूर करने के लिए आपको एक छोटा सा धार्मिक उपाय बतायेंगे ! इस उपाय को करने के बाद आपको बरकत  होगी आपको धन का आभाव कभी नही होगा ! इस उपाय को आपको गुरूवार के दिन करना है ! यदि आप चाहते है आपका पर्स हमेशा भरा रहे तो आपको अपने पर्स में गुरूवार के दिन श्री यंत्र रखना चाहिए !  श्री यंत्र  को आपको पुरे विधि -विधान से पूजा पाठ करके ही पर्स में रखना है !

दुसरे उपाय में आपको माँ लक्ष्मी को चढाये गये चावलों में से थोड़े चावल लेकर एक कागज में लपेट कर उसकी पुड़िया बना ले और उसे अपने पर्स में रख ले ! इस उपाय को करने से शुक्र ग्रह और माँ लक्ष्मी से संबंधित सकारात्मक फल प्राप्त होंगे ! आप पीपल के पत्ते  भी अभिमंत्रित करके अपने पर्स में रख सकते है ! जिसमे भगवान विष्णु का वास होता है !

धन सम्बन्धित समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप अपने गुरु की तस्वीर भी पर्स मे रख सकते है ! माँ लक्ष्मी से संबंधित चीजे भी अपने पर्स में रख सकते है जैसे गोमती चक्र, समुद्री कौड़ी, कमल गट्टे और चांदी का सिक्का आदि !   रखी गयी  वस्तुए यदि खंडित हो जाये तो इन्हें जल में प्रवाहित कर  देना चाहिए ! अपने पर्स में किसी भी प्रकार का अश्लील सामान न रखे ऐसा करने से नकरात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है !

यदि आपको हमारी ये जानकारी  पसंद आई हो तो लाईक, शेयर व् कमेन्ट जरुर करें ! रोजाना ऐसी ही जानकारी के लिए हमारे पेज को फ़ॉलो जरुर करे ! 

About Megha

Leave a Reply

Your email address will not be published.