free tracking
Breaking News
Home / बॉलीवुड / अब शेर सिंह राणा के जीवन पर बनी फिल्म,फूलन देवी को मार के पृथ्वीराज चौहान की अस्थियों को पहुँचाया था भारत

अब शेर सिंह राणा के जीवन पर बनी फिल्म,फूलन देवी को मार के पृथ्वीराज चौहान की अस्थियों को पहुँचाया था भारत

दोस्तों निर्देशक विवेक अग्निहोत्री की फिल्म द कश्मीर फाइल्स  की अपार सफलता के बाद दर्शक और  सत्य घटनाओ पर आधारित फिल्मे बनाने की इच्छा जता रहे है . ऐसे में इन दिनों  विद्युत जामवाल की आने वाली फिल्म शेर सिंह राणा काफी सुर्खियों में बनी हुयी है . जबसे इस फिल्म के बनने की बात लोगो को पता  चली है तबसे लोग हजारो सवाल पूछते हुए नज़र आ रहे है . फिल्म बनने से पहले ही विवादों में नज़र आ रही है .सब जानना जाहते है कि आखिर शेर सिंह राणा ने ऐसा क्या काम किया जो उसके जीवन पर फिल्म बनाई जा रही है .

 

आपकी जानकारी के लिए बता दे शेर सिंह राणा वह है जिसने 22 ठाकुरों की हत्या करने वाली  फूलन देवी  से बदला लेने के लिए उसकी गोली मारकर हत्या कर दी और बाद में जेल से फरार होकर अफगानिस्तान जा पहुंचा बाद में ये दावा करने लगा कि  वो पृथ्वीराज चौहान की अस्थियों को उठाकर भारत वापस लाया। फिल्म के पोस्टर को देखे तो उसके अनुसार फिल्म राजपूत राजा शिवराज सिंह चौहान वाले पार्ट पर आधारित हैं।

पोस्टर आते ही कई लोग अक्रोशित हो गए उनमें से कई ने तो ये मांग की है की फिल्म की शुटिंग को रोक दिया जाए। पोस्टर आते ही पत्रकार अजीत अंजुम ने ट्वीट करते हुए कहा फूलन देवी के कातिल सजायाफ्ता मुजरिम शेर सिंह राणा पर फिल्म? एक कातिल को महिमा मंडन किया जा रहा हैै। फिल्म के पोस्टर के बाद सोशल मीडिया पर लोगों की भी प्रतिक्रिया बड़ी तेजी से आ रही हैं। कुछ यूजर्स ने फिल्म निर्माता को धमकाते हुए कहा हत्यारे को हीरो बनाकर पेश करेंगे तो इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी। कुछ यूजर्स ने तो अभिनेता विद्युत को फिल्म करने से पहले शेर सिंह राणा के बारे में पूरी तरह से पता कर लेने को कहा। बता दें फिल्म कश्मीर फाइल्स के बाद से ही सोशल मीडिया पर आए दिनों फैंस किसी न किसी फिल्म की आलोचना करते नजर आ रहे हैं।

कौन है शेर सिंह राणा
शेर सिंह राणा का असली नाम पंकज सिंह पुंढीर है। उनका जन्म 17 मई 1976 को उत्तराखंड के रुड़की में हुआ था। शेर सिंह राणा ने 25 जुलाई 2001 को पूर्व डकैत और सांसद फूलन देवी की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसके बाद शेर सिंह को उम्र कैद की सजा हुई थी। शेर सिंह ने फूलन देवी को ठाकुरों की हत्या का बदला लेने के लिए की थी। 17 फरवरी 2004 को शेर सिंह राणा तिहाड़ जेल से फरार हो गया। बाद में शेर सिंह राणा ने दावा किया कि वह अफगानिस्तान के कंधार से हिंदू राजा पृथ्वीराज चौहान के अवशेष लेकर आया है। साल 2006 में शेर सिंह राणा को फिर से गिरफ्तार कर लिया गया। 2016 में शेर सिंह राणा को जमानत मिल गई। साल 2019 में शेर सिंह ने अपनी पार्टी राष्ट्रवादी जनलोक पार्टी का गठन किया।

 

About Megha

Leave a Reply

Your email address will not be published.