free tracking
Home / ताजा खबरे / दो से ज्यादा बच्चे वाले को लगेगा बड़ा झटका, मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा का बड़ा ऐलान

दो से ज्यादा बच्चे वाले को लगेगा बड़ा झटका, मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा का बड़ा ऐलान

असम और बंगाल में अभी हाल ही में कुछ समय पहले विधानसभा चुनाव हुआ था। असम में बीजेपी(BJP) पार्टी को जीत मिली। सरकार बनने के बाद सोनोवाल को हटाकर हिमंता बिस्वा सरमा को राज्य का नया मुख्यमंत्री बनाया गया था। जिसे देख कर सभी आश्चर्यचकित रह गए। सीएम की कुर्सी मिलने के बाद से ही CM हिमंता बिस्वा सरमा ए क्शन मोड में देखे जा रहे हैं। एक के बाद एक बड़ा कदम उठा रहे हैं। इसी बीच उन्होंने एक बहुत बड़ा ऐलान कर दिया है। असम में दो से ज्यादा बच्चे वाले लोगों को बड़ा झटका लग सकता है। जिसे लेकर लोग अब सोच में पड़ चुके हैं।

दो से अधिक बच्चे होने पर माता पिता सरकारी योजना का नहीं उठा सकेंगे लाभ

आपको बता दें कि असम के नए मुख्यमंत्री ने राज्य के लोगों को लेकर एक बड़ा ऐलान किया है। वह राज्य में 2 से ज्यादा बच्चा पैदा करने वाले लोगों को लेकर बहुत बड़ा निर्णय लेने जा रहे हैं। सीएम बिस्वा ने कहा कि अगर कोई व्यक्ति दो से अधिक बच्चा पैदा करता है या फिर अगर किसी के पास दो से अधिक बच्चा है तो उसके माता-पिता सरकारी योजना का लाभ नहीं उठा सकते। उन्हें सरकारी योजना से हमेशा के लिए वंचित कर दिया जाएगा।

टू चाइल्ड पॉलिसी को धीरे-धीरे किया जाएगा लागू

शनिवार को हिमंता बिस्वा सरमा ने सूचना देते हुए यह घोषणा की है कि, “असम सरकार राज्य की परियोजनाओं का लाभ लेने के लिए चरणबद्ध तरीके से बच्चा नीति को अथवा चाइल्ड पॉलिसी को धीरे धीरे लागू करेगी। उन्होंने यह साफ कर दिया है कि केंद्र सरकार की योजनाओं में अभी यह संभव नहीं है, लेकिन राज्य की योजनाओं का लाभ उठाने के लिए यह कानून लागू किया जाएगा। लोग टू चाइल्ड पॉलिसी पर ध्यान दें एवं उसे आत्मसात करने की कोशिश करें

प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दी जानकारी

आपको बता दें कि हिमंता बिस्वा सरमा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा है कि “कुछ ऐसी योजनाएं हैं, जिसमें हम दो बच्चे की नीति लागू नहीं कर सकते, जैसे कि स्कूलों और कॉलेजों में मुफ्त शिक्षा या प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास लेकिन कुछ योजनाओं में, जैसे अगर राज्य सरकार आवास योजना की शुरुआत करती है तो दो बच्चे के नियम को लागू किया जा सकता है। धीरे-धीरे आगे चलकर राज्य सरकार की प्रत्येक योजना में यह लागू की जाएगी।”

About admin1

Leave a Reply

Your email address will not be published.