free tracking
Breaking News
Home / ताजा खबरे / सात साथियों के साथ अंडरवियर में दिखा पत्रकार,वायरल हुई तस्वीर,अधिकारियों पर मारपीट और धमकी का आरोप

सात साथियों के साथ अंडरवियर में दिखा पत्रकार,वायरल हुई तस्वीर,अधिकारियों पर मारपीट और धमकी का आरोप

दोस्तों जैसा कि सभी को मालूम है  वैसे तो सोशल मीडिया पर रोजाना बहुत सी  तस्वीरे  और  विडियो अपलोड होती है लेकिन उनमें से कुछ ही वायरल हो पाती है . उन तस्वीरो या  विडियो में कुछ तो ख़ास होता है जो पलक झपकते ही वायरल हो जाती है .इन दिनों भी सोशल मिडिया पर एक तस्वीर काफी वायरल हो रही है जिसमे आठ  युवक बिना  कपड़ो के  हाथ बांधे हुए खड़े  नज़र आ रहे है .इस तस्वीर में ऐसा भी क्या  था जो देखते ही देखते ये वायरल हो गयी .इस मामले से जुडी पूरी खबर जानने के लिए खबर को अंत तक जरुर पढ़े .

दरअसल, ये मामला मध्य प्रदेश के सीधी जिले का है. जहां थाने में कुछ लोगों को बिना कपड़ों के देखा जा सकता है. इसमें एक पत्रकार भी शामिल है. पत्रकार ने फेसबुक पर एक वीडियो शेयर करके आरोप लगाया है कि उसके साथ मारपीट भी की गई और धमकाया गया.थाने की घटना और वायरल फोटो को लेकर, एडिशनल एसपी अंजुलता पटेल का कहना है कि मामला संज्ञान में लेते हुए एसपी सीधी के निर्देशन में डीएसपी हेड क्वार्टर गायत्री तिवारी को जांच का आदेश दिया गया है.वहीं मामले को लेकर कनिष्क तिवारी ने कहा कि वह अपने कैमरामैन के साथ धरना प्रदर्शन को कवर करने गए थे. इस दौरान धक्का देकर कोतवाली थाना की पुलिस मुझे थाने में ले गई. मेरे साथ मारपीट की गई. फिर कपड़े उतरवाए गए. थाने में जुलूस निकलवाया गया. कनिष्क ने कहा- मुझे और मेरे परिवार को लगातार धमकी मिल रही है. और कहा जा रहा है कि तुम्हें बेवजह फर्जी मुकदमे में फंसा देंगे. तुम लोगों पर हमला करवा देंगे. मेरा पूरा परिवार डरा हुआ है.

बताया जाता है कि बीजेपी विधायक केदारनाथ शुक्ला के बेटे गुरुदत्त शुक्ला को फेसबुक पर एक शख्स ने गाली दे दी. ये फेसबुक आईडी अनुराग मिश्रा के नाम से थी. इसकी शिकायत विधायक पुत्र ने सीधी कोतवाली थाना में कर दी. पुलिस ने जांच के दौरान एक रंगकर्मी नीरज कुंदेर को हिरासत में ले लिया.नीरज कुंदेर की गिरफ्तारी के बाद इंद्रावती नाट्य समिति सीधी के कई मेंबर सीधी कोतवाली थाना में धरना प्रदर्शन करने लगे. शिवराज सिंह मुर्दाबाद, पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद और भाजपा मुर्दाबाद के नारे लगाने लगे. तभी कोतवाली थाने के थाना प्रभारी ने धरना दे रहे सभी लोगों को गिरफ्तार कर लिया. धारा 151 के तहत मामला दर्ज कर पुलिस हिरासत में उन्हें थाने में ही रखा गया.थाने में धरना दे रहे सभी लोगों की तलाशी ली गई. इस दौरान उनका कपड़ा उतरवा दिया गया. इसकी किसी ने तस्वीर ले ली. जो तस्वीर सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रही है.इस मामले में एडिशनल एसपी अंजुलता पटेल का कहना है एक फेक आईडी के जरिए विधायक पुत्र को परेशान किया जा रहा था. जांच के दौरान एक रंगकर्मी नीरज कुंदेर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया. इसके बाद कई रंगकर्मी और कनिष्क तिवारी थाना के समक्ष धरना प्रदर्शन कर रहे थे. इसी दौरान सभी को 151 के तहत गिरफ्तार किया गया.

About Megha

Leave a Reply

Your email address will not be published.