free tracking
Breaking News
Home / देश दुनिया / छुट्टी के दौरान अपनी हॉट फ़ोटो पोस्ट कर रही थी ये पुलिसवाली,डिपार्टमेंट को पता चला तो

छुट्टी के दौरान अपनी हॉट फ़ोटो पोस्ट कर रही थी ये पुलिसवाली,डिपार्टमेंट को पता चला तो

दोस्तों आज के समय में सभी नौकरी करना चाहते है चाहे प्राइवेट हो या सरकारी .नौकरी करने वाले  हर कर्मचारी को जैसे उसके काम के लिए सैलरी देना जरूरी है उसी तरह छुट्टी मिलना भी उसका अधिकार है .छूट्टी के दिन इन कर्मचारीयो को कुछ भी करने  का अधिकार है . ये कंही भी आ सकते है कंही भी जा सकते है कोई इन्हें रोक नही सकता .लेकिन आज हम आपको एक ऐसे मामले के बारे में बताने वाले है  जिसमे छुट्टी के दौरान अपनी कुछ तस्वीरे शेयर करने के लिए डिपार्टमेंट  ने अपने कर्मचारी के खिलाफ की सख्त कार्यवाही क्या है पूरा मामला यदि आप भी जानना चाहते हो तो खबर को अंत तक पढ़े .

‘बार्बीकॉप’ नाम से मशहूर एक पुलिस अधिकारी (Police Officer) का दावा है कि उसे ब्राजीलियन फोर्स (Brazilian Force) से केवल इसलिए निकाल दिया गया, क्योंकि उसने छुट्टी पर रहने के दौरान अपनी कुछ हॉट तस्वीरें (Hot Pictures) पोस्ट की थीं. हालांकि, पुलिस ने अपनी कार्रवाई को सही ठहराते हुए बार्बीकॉप पर अनुशासनहीनता का आरोप लगाया है.

पैर में लग गई थी गोली

रिपोर्ट के मुताबिक, 33 साल की एंड्रेसा क्रिस्टीन मेडिरोस डॉस सैंटोस (Andressa Christine Medeiros dos Santos) के बाएं पैर में गोली लग गई थी. इसके बाद उन्हें इलाज के लिए छुट्टी (Sick Leave) पर भेज दिया गया. हालांकि, इस दौरान उन्होंने कई सोशल इवेंट्स में शिरकत की. इतना ही नहीं उन्होंने जिम में एक्सरसाइज करते हुए अपनी कुछ हॉट तस्वीरें भी पोस्ट कीं, जिसे देखकर वरिष्ठ अधिकारी भड़क उठे.

सैन्य पुलिस ने दिया ये तर्क

एंड्रेसा को 12 मार्च को गंभीर अनुशासनात्मक उल्लंघन के आरोप में ब्राजीलियाई सैन्य पुलिस से बाहर कर दिया गया. सैन्य पुलिस का कहना है कि एंड्रेसा ने बार-बार अनुशासनहीनता का प्रदर्शन किया. उन्हें छुट्टी इलाज के लिए दी गई थी, लेकिन वो सोशल इवेंट्स में हाई हील पहनकर डांस करते पाई गईं. यानी उन्होंने छुट्टी का गलत इस्तेमाल किया, जिसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता.

वकील ने लगाए गंभीर आरोप

पुलिस अधिकारी एंड्रेसा के वकील का दावा है कि वह उत्पीड़न की शिकार हैं और अगले सप्ताह पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ अपील दायर कर सकती हैं. एंड्रेसा 2010 से मिलिट्री पुलिस हिस्सा थीं. वकील का यह भी कहना है कि एंड्रेसा को 2019 से निशाना बनाया जा रहा है. इसकी वजह छुट्टी पर सोशल इवेंट में शामिल होना नहीं बल्कि उनका सैन्य पुलिस में संभावित धोखाधड़ी से जुड़े एक मामले की आंतरिक जांच में शामिल होना है.

About Megha

Leave a Reply

Your email address will not be published.