free tracking
Breaking News
Home / देश दुनिया / हिंदुओ का अपमान करने वाले कनाडा को मिली सजा,बोले “गलती हुई,अब नही करेंगे”

हिंदुओ का अपमान करने वाले कनाडा को मिली सजा,बोले “गलती हुई,अब नही करेंगे”

दोस्तों हिन्दुओ के लिए स्वास्तिक चिन्ह का बहुत महत्व है .इस चिन्ह को  बहुत पवित्र माना गया है . स्वास्तिक का अर्थ होता है कल्याण या मंगल इसलिए इस चिन्ह को हर शुभ मांगलिक  कार्य से पहले बनाया जाता है .जिससे चारो दिशाओ से ये चिन्ह शुभ और मंगल चीजों को आकर्षित कर सके .इस चिन्ह को सिंदूर से बनाया जाता है स्वास्तिक के चारो ओर बीच में चार बिंदु बनाये जाते है जिसका अर्थ है ध्यान केन्द्रित करना .हालही में स्वास्तिक चिन्ह को लेकर एक खबर सामने आ रही है जिसके बाद से हिन्दू इसे अपना अपमान बता रहे है इसके साथ ही ये खबर भी सामने आरही है कि अपमान करने वाले  अब पछता रहे है बोले अब नही करंगे कभी ऐसी गलती .

अब इस बिल में नाजी प्रतीक को स्वास्तिक की जगह हुक्ड क्रॉस कहा जाए। बता दें कि स्वास्तिक को सनातन धर्म पर पवित्र प्रतीक चिह्न माना जाता है। ऐसे में कनाडा में प्रस्तावित विधेयक में हुक्ड क्रॉस की बजाय स्वास्तिक शब्द का इस्तेमाल किए जाने पर भारतीय समुदाय के लोगों ने आपत्ति जताई थी। इस विधेयक के खिलाफ हिंदू फेडरनेशन नाम के संगठन ने प्रदर्शन किया था।इस विरोध के बाद न्यू डेमोक्रेटिक पार्टी के सांसद पीटर जुलियन ने कहा, ‘मैं प्रस्तावित बिल सी-229 की भाषा में बदलाव के लिए तत्पर हूं। स्वास्तिक की जगह पर अब मैं हुक्ड क्रॉस शब्द का इस्तेमाल करूंगा। नाजी शब्द के इसका ही इस्तेमाल किया जाएगा।’ इस प्राइवेट मेंबर बिल को एनडीपी के नेता जगमीत सिंह का भी समर्थन हासिल है।

इस बिल में प्रस्ताव था कि कनाडा में नाजी स्वास्तिक चिह्न की बिक्री और उसके प्रदर्शन पर रोक लगाई जाएगी। बीते दिनों कनाडा की राजधानी ओटावा में हुए ट्रक आंदोलन में इस चिह्न का इस्तेमाल किया गया था।इसके बाद ही इस तरह का प्रस्ताव आया था। इस बिल के समर्थन में जगमीत सिंह ने ट्वीट किया था, ‘स्वास्तिक या फिर कनफेडरेट के झंडों का कनाडा में कोई स्थान नहीं है। हमारे ऊपर यह जिम्मेदारी है कि हम सभी को सुरक्षित महसूस कराएं। यह समय है, जब कनाडा में हेट सिंबल्स पर बैन लगा दिया जाना चाहिए।’ हालांकि विरोध के बाद न्यू डेमोक्रेटिक पार्टी ने अपने रुख को बदला है। हिंदू फेडरनेश के नेता पंडित रूपनाथ शर्मा को भेजे ईमेल में सांसद पीटर जुलिया ने लिखा, ‘मैं समझता हूं कि स्वास्तिक का हिंदू, बौद्ध और जैन धर्म में अहम स्थान है। हम विधेयक में स्वास्तिक चिह्न के धार्मिक, शैक्षणिक और ऐतिहासिक इस्तेमाल पर किसी भी तरह की रोक की मांग नहीं करेंगे।’

कनाडा की संसद में भी हिंदू सांसद ने जताया था विरोध

बता दें कि सोमवार को सत्ता लिबरल पार्टी के सांसद चंद्र आर्य ने सदन को संबोधित करते हुए कहा था कि इस बिल को लेकर हिंदू समाज में गुस्सा है। उनका कहना था कि हिंदुओं में स्वास्तिक का अर्थ पवित्र चिह्न के तौर पर है। इसके अलावा जर्मन हुक्ड क्रॉस अलग है। ऐसे में इसे स्वास्तिक चिह्न कहना गलत होगा।

About Megha

Leave a Reply

Your email address will not be published.