free tracking
Breaking News
Home / ताजा खबरे / शादी के 6 महीने बाद ही दुल्हन बन गयी माँ, ससुराल वालों को पता चला तो मचा बवाल पर सच सामने आया तो

शादी के 6 महीने बाद ही दुल्हन बन गयी माँ, ससुराल वालों को पता चला तो मचा बवाल पर सच सामने आया तो

दोस्तों शादी करने का सपना हर किसी का होता है रिश्ता होते ही लड़का लड़की अपनी आने वाली ज़िन्दगी के खुशहाल सपने देखना शुरू कर देते है ! शादी के  बाद हर कपल चाहता है वो अपने परिवार को आगे बढाये माता -पिता बनने का सुख पाए . अपने बच्चे का अच्छे से पालन पोषण करे . लेकिन हालही में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमे बच्चे के जन्म के बाद  पिता और दादा -दादी ने अपनाने से किया इनकार और बच्चे की माँ पर लगाये गंदे -गंदे इल्जाम और घर छोड़ने को किया मजबूर .क्या है पूरा मामला जानने के लिए खबर को अंत तक पढ़े .

ग्वालियर के फैमिली कोर्ट से एक ऐसा मामला सामने आ रहा है. जिसको सुनने के बाद शायद आप भी हैरान रह जाएंगे. ग्वालियर के अशोकनगर की स्थाई निवासी एक महिला ने शादी के 6 महीने बाद ही एक बच्चे को जन्म दिया. 6 महीने बाद ही बच्चा होने के बाद इस महिला के साथ ससुर काफी ज्यादा हैरान रह गए. बता दे महिला के परिवार में भूचाल मच गया. जिसके बाद समाज ने महिला पर उंगली उठाना शुरू कर दिया और महिला के सास ससुर ने भी इस बच्चे को नाजायज करार देते हुए महिला को घर से निकाल दिया.

जानकारी के लिए बता दें ससुराल से निकाल दिए जाने के बाद यह महिला अपने मायके में अपना जीवन बिता रही थी लेकिन अब इस मामले के तकरीबन 1 साल बाद यह मामला फैमिली कोर्ट तक पहुंचा. जिसके बाद इस महिला के साथ ससुर की ऑनलाइन काउंसलिंग शुरू कर दी गई थी ताकि इस महिला के घर को टूटने से बचाया जा सके. फैमिली कोर्ट के काउंसलर हरीश दीवान के अनुसार सोशल मीडिया से मेडिएशन सेल का नंबर प्राप्त होने के बाद ही इस महिला ने उनसे संपर्क कर फोन पर बात की. इसके बाद महिला ने उन्हें बताया कि उनकी शादी 2020 में हुई थी. जिसके 6 महीने बाद वह एक बच्चे की मां बन गई.

शादी के महज  6 महीने बाद मां बनने के कारण उसके ससुराल वालों में काफी ज्यादा हलचल मच गई. ससुराल वाले एवं उसके पड़ोसी उसके बारे में तरह-तरह की बातें करने लगे. बता दे इस महिला ने इस बात का खुलासा भी किया कि उसके पति को सारी हकीकत पता है. लेकिन फिर भी वह उसका साथ देने की बजाय अपने माता-पिता का साथ दे रहा है. बता दे इस महिला की सारी बात को ध्यान से सुनने के बाद काउंसलिंग टीम ने महिला के पति से बातचीत की. पति ने पहले तो टीम के मेंबरों को यह बोल दिया कि यह बच्चा उसका नहीं है.

हालांकि जब टीम मेंबरों ने उसको बताया कि बच्चे के साथ उसका डीएनए मैच किया जाएगा. जिससे यह पता चल जाएगा कि वह बच्चे का पिता है कि नहीं. अगर वह इस बच्चे का पिता निकला तो उसको जेल भी हो सकती है. यहां सब बातें सुनने के बाद महिला के पति ने स्वीकार कर दिया कि हां बच्चा उसी का ही है और वह इस बच्चे का पिता है और यह भी स्वीकार किया कि घर वालों के सामने शादी होने से पहले इस महिला से मंदिर में शादी कर चुका था और कई बार शारीरिक संबंध भी बना चुका था. जिसके बाद महिला के पति ने हैं सब बात अपने घरवालों को बताई कि वही उस बच्चे का पिता है.

गौरतलब है कि पूरी बात समझने के बाद महिला की सास को अपनी गलती का पश्चाताप हुआ. जिसके बाद सास ने ऑनलाइन बातचीत करके अपनी बहू के साथ सारे गिले-शिकवे दूर कर लिए. जिसके बाद यह सास अपनी बहू के घर पहुंची और अपने पोते और बहू को खुशी-खुशी घर लेकर आ गई. आखिरकार महिला को 1 साल तक मानसिक पीड़ा सहने के बाद न्याय मिल गया और वह अब अपने ससुराल में खुशी खुशी अपनी जिंदगी व्यतीत कर रही है.

 

About Megha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *