free tracking
Breaking News
Home / ताजा खबरे / 28 साल की उम्र में लड़की ने कर ली 10 शादियां, ऐसे करती थी पतियों को मैनेज

28 साल की उम्र में लड़की ने कर ली 10 शादियां, ऐसे करती थी पतियों को मैनेज

दोस्तो शादी एक पवित्र बंधन है । सभी को पता है शादी सिर्फ एक बार होती है लेकिन कभी कभी हालात ऐसे होते है कि इंसान को दूसरी शादी करनी पड़ती है ।लेकिन कुछ लोग शौक के लिए कई शादियां कर लेते है और कुछ लोग शादी जैसे पवित्र बंधन को धंधा बना लेते है और एक शादी करते है फिर अपने जीवन साथी को छोड़ दूसरी शादी फिर तीसरी ये क्रम ऐसे ही चलता रहता है कि  इंसान बिलकुल भी नही सोचता उनके ऐसा करने से दुसरो पर क्या बीतती है .लेकिन आज हम आपको एक ऐसी महिला के बारे में बताने वाले है जो 28 साल की उम्र में कर चुकी है दस शादियां ।

पुलिस के शिकंजे में फंसी शातिर युवती अब तक कई दूल्हों और उनके परिवारों के सपने लूट चुकी है. इसने मप्र ही नहीं बल्कि राजस्थान में भी कई लोगों से नकली शादी करके उन्हें अपनी ठगी का शिकार बनाया है.सिर्फ 28 साल की उम्र में एक युवती ने दस शादी कर डाली. एक असली शादी के साथ दस नकली शादी करने का ये कारनामा किया है जबलपुर की एक चालबाज युवती ने. हालांकि असली शादी वाले पति की मौत हो चुकी है लेकिन नकली शादी वाले सभी पति धोखाधड़ी का शिकार हुए हैं. अब यह युवती और उसके नकली रिश्तेदारों की गैंग जेल की हवा खा रही है.

कई लोगों ने बदनामी के डर से नहीं की शिकायत


जबलपुर में ओमती पुलिस के शिकंजे में फंसी शातिर युवती अब तक कई दूल्हों और उनके परिवारों के सपने लूट चुकी है. इसने मप्र ही नहीं बल्कि राजस्थान में भी कई लोगों से नकली शादी करके उन्हें अपनी ठगी का शिकार बनाया है. शादी के नाम पर ठगी करने वाली यह गैंग 10वीं वारदात के दौरान पुलिस के हत्थे चढ़ी है. कहा जा रहा है कि कई ऐसे भी लोग हैं जिन्होंने शर्मिंदगी और बदनामी के डर से पुलिस में शिकायतें नहीं की हैं.

गिरफ्तार कर भेजा गया जेल


ओमती पुलिस ने मुख्य आरोपी रेणू राजपूत उर्फ उर्मिला अहिरवार, उसकी मौसी अर्चना बर्मन, मौसा अमर सिंह और प्रेमी अजय राजपूत को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने मध्यप्रदेश के जबलपुर, सागर और दमोह के साथ राजस्थान के कोटा, धौलपुर, जयपुर समेत अन्य राज्यों में भी नकली शादी करके धोखाधड़ी की वारदातें करना कबूल की हैं. रेणू और उसकी गैंग के सदस्यों ने अपनी पहचान छिपाने के लिए अलग-अलग नामों से फर्जी आईडी भी बना रखी थी,जिसके संबंध में पुलिस जांच कर रही है.

कई जगह ले रखे हैं किराए के घर


ओमती टीआई एसपीएस बघेल के मुताबिक पुलिस गिरफ्त में आने के बाद रेणू ने बताया कि वह मूलतः जबलपुर के धनवंतरी नगर इलाके में साईं कॉलोनी में रहती है. उसकी मौसी अर्चना नेहरू नगर, मेडिकल में रहती है. उसका प्रेमी भागचंद उर्फ अजय राजपूत गंगा नगर, नवनिवेश कॉलोनी गढ़ा का रहने वाला है और एक अन्य साथी अमर सिह शाहीनाका गढ़ा निवासी है. रेणू और उसकी गैंग ने जबलपुर में रांझी, बिलहरी, घमापुर समेत शहर के कई जगहों पर किराए के मकान ले रखे हैं, जहां ग्राहकों को शादी करने के नाम पर बुलाकर फंसाया जाता था

गाड़ी से उतरकर भागी थी रेणू


गौरतलब है कि मंगलवार को भीमगढ़ छपारा, जिला सिवनी निवासी दशरथ पटैल ने ओमती थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसके चाचा जागेश्वर पटेल और चाची सुनीता पटैल ने 15 दिन पूर्व उसे रेणू राजपूत से शादी की बात पक्की करने के लिए जबलपुर बुलाया था. दोनों परिवारों की सहमति से मंगलवार को उनकी शादी डिस्ट्रिक्ट कोर्ट परिसर स्थित शिव मंदिर में हुई थी. जिसमें एक महिला वकील ने शपथ पत्र पर कानूनी प्रक्रिया के तहत उनके हस्ताक्षर भी करवाए थे,लेकिन शादी होने के बाद घर जाते समय रेणू अचानक गाड़ी से कूदकर एक युवक के साथ बाइक पर बैठकर भाग गई.

क्या क्या जब्त हुआ


जिसके बाद वे लोग वापस कोर्ट पहुंचे, जहाँ रेणू की मौसी अर्चना बर्मन को पकड़कर थाने लाया गया था. दशरथ ने बताया था कि उसने रेणू के मौसा अमर सिंह को 35 हजार रुपए दिए थे और रेणू को डेढ़ लाख के जेवर दिए थे, जो वो लेकर भागी है. पुलिस ने रेणू राजपूत, अमर सिंह और रेणू के प्रेमी अजय राजपूत को गिरफ्तार कर लिया था. आरोपियों से सोने का 1 मंगलसूत्र, 20 हजार रुपए, 4 मोबाइल और 1 मोटर साइकिल जब्त की गई है

About Megha

Leave a Reply

Your email address will not be published.