free tracking
Breaking News
Home / क्रिकेट / मैच में हार के बाद जडेजा ने खोला बड़ा राज”कप्तानी छोड़ने के बाद भी अपनी चला रहे धोनी, जडेजा बोले- मुझे कतई पसंद नहीं आई ये बात

मैच में हार के बाद जडेजा ने खोला बड़ा राज”कप्तानी छोड़ने के बाद भी अपनी चला रहे धोनी, जडेजा बोले- मुझे कतई पसंद नहीं आई ये बात

दोस्तों जैसा कि सभी को मालूम है खेल के मैदान हर कोई जीतने के लिए उतरता है लेकिन जीत किसी एक की ही होती है . खेल में हार जीत तो लगी रहती है . जैसा कि 2021 चैंपियन रही सीएसके  आईपीएल 2022 के 7वें मुकाबले में लखनऊ सुपर जायंट्स के खिलाफ 6 विकेट से हार गया . सीएसके की  दूसरी हार ने सभी को सोचने पर मजबूर कर दिया है .सभी सीएसके के खेल के  ऐसे प्रदर्शन से आशचर्यचकित है . जिसके बाद फैन्स बहुत नाराज दिखाई दे रहे है और कुछ तो  महेंद्र सिंह धोनी के ऊपर निकाल रहे है गुस्सा तो कुछ रवींद्र जडेजा को कर रहे हैं ट्रोल . ऐसे में खबर सामने आई है कि रवींद्र जडेजा को कप्तानी छोड़ने के बाद भी धोनी की दखलंदाजी पसंद नही आ रही है क्या है पूरा मामला जानने के लिए खबर को अंत तक जरुर पढ़े .

धोनी के ऊपर फूटा जडेजा का गुस्सा

लखनऊ के खिलाफ पारी का 19वां ओवर महेंद्र सिंह धोनी ने शिवम दुबे को सौंप दिया था. दोनों टीमों के नजरिए से ये ओवर बहुत जरूरी था. लेकिन इस ओवर में दुबे ने 25 रन लुटा दिए और सीएसके की हार लगभग तय कर दी. इस फैसले के लिए लगातार धोनी की आलोचना की जा रही है. लेकिन इसी बीच टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर अजय जडेजा ने भी धोनी के ऊपर अपना गुस्सा निकाला है. जडेजा को धोनी की ये बात बिल्कुल पसंद नहीं आई है.

धोनी को लेकर कही ये बात

कप्तानी से हटने के बाद भी धोनी का लगातार फैसला लेना जडेजा को बिल्कुल पसंद नहीं आया है. जडेजा ने मैच के बाद कहा, ‘कई बार आप कमान अपने हाथ में ले लेते हैं कि मेरी जरूरत है तो समझ आता है, लेकिन दूसरे ही मैच में जो देखने को मिला. मैं जडेजा की तरफदारी नहीं कर रहा हूं. लेकिन एक क्रिकेट फैन के तौर पर कि जडेजा बाउंड्री पर खड़े थे और आप पूरा गेम चलाते रहे. बहुत बड़े खिलाड़ी हैं, उनके लिए ऐसा बोलना मुझे ही अच्छा नहीं लग रहा है, लेकिन जो इस मैच में हुआ वह मुझे कतई अच्छा नहीं लगा.’उन्होंने कहा, ‘जितना मैच मैंने देखा, ये गलत है, इसमें कोई शक नहीं है. मेरे से बड़ा धोनी का कोई फैन नहीं है, जो उनका टेम्परामेंट है, जो वह चीजें करते हैं, दो ही मैच हुए हैं और अगर आपने कप्तानी छोड़ दी है, नए कप्तान को कमान थमा दी है, अगर यही आखिरी मैच होता और करो या मरो वाली बात होती, तो वह ऐसा करते तो समझ में आता.’

धोनी का बेहद गलत फैसला

महेंद्र सिंह धोनी ने इस मैच के सबसे जरूरी और निर्णायक ओवर में शिवम दुबे को गेंद थमा दी. ये लखनऊ की पारी का 19वां ओवर था. इस ओवर से पहले धोनी शिवम दुबे से बात करते हुए भी नजर आ रहे थे. दुबे के इस ओवर में लेविस और आयुष ने 25 रन ठोक दिए. जिससे लखनऊ की जीत लगभग सुनिश्चित हो ही गई थी. दुबे को ये ओवर देने का फैसला धोनी का ही था, लेकिन इसके लिए जिम्मेदार जडेजा को माना जा रहा.

About Megha

Leave a Reply

Your email address will not be published.