Breaking News
Home / ताजा खबरे / ची’नी वैज्ञानिकों ने चमगादड़ पर की फिर से रिसर्च, खोज निकाले 24 तरह के ‘को’रोना वा’यरस’,

ची’नी वैज्ञानिकों ने चमगादड़ पर की फिर से रिसर्च, खोज निकाले 24 तरह के ‘को’रोना वा’यरस’,

को’रोना वा’यरस के उत्पत्ति को लेकर ची-न पहले से ही संदेह के घेरे में है. दुनिया के लगभग सभी देश को-रोना को लेकर एक बार फिर से जांच की मांग उठाने लगी है. इस बीच ची’न के शोधकर्ताओं ने एक और खुलासा किया है. ची’न के वैज्ञानिकों ने चमगादड़ों में एक नए प्रकार के को-रोना वा’यरस का पता लगाने का दावा किया है.

सीएनएन ने अपनी रिपोर्ट में जानकारी दी है कि नए खोजे गए को-रोना वा’यरस की प्रजाति जेनेटिक तौर पर को’विड-19 वायरस के काफी करीब हो सकती है. ची-नी शोधकर्ताओं का कहना है कि दक्षिण पश्चिम ची-न में को-रोना वा’यरस की नई खोज से पता चलता है कि चमगादड़ों में कई प्रकार के को-रोना वा-यरस हो सकते हैं, जो इंसानों को भी संक्रमित कर सकते हैं.

उन्होंने कहा, “ये स्पाइक प्रोटीन को छोड़कर कोविड-19 से बहुत मिलता जुलता है, इसका स्ट्रक्चर भी वैसा ही है, जोकि कोशिकाओं से जुड़ने के लिए वायरस में आमतौर पर देखा जाता है.” शोध पत्र में चीनी शोधकर्ताओं ने लिखा है, “जून 2020 में थाईलैंड में मिले सार्स-कोव-2 वायरस को मिलाकर ये परिणाम साबित करते हैं कि चमगादड़ों में कोरोना वायरस का फैलाव बहुत ही ज्यादा और सघन है. इससे यह भी पता चलता है कि कुछ इलाकों में कोरोना वायरस के फैलने की आवृत्ति बहुत ज्यादा हो सकती है.”

बता दें कि कोविड-19 की उत्पत्ति के बारे में विश्व स्वास्थ्य संगठन की अगुवाई में नए सिरे से जांच की मांग हो रही है. अमेरिका सहित जी7 के देशों ने इस बारे में जांच की मांग तेज कर दी है.

About admin1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *